30,212 IVF Pregnancies

Blogs

परुुष इनफर्टीलऱर्टी के क्या कारण हैं?

Treatment profile

रो स्ऩभमकाउं ट ऩरुुष इनपटीलरटी उत्ऩन्न कय सकता ह

33% दम्ऩततमों भेंजजन्हेंइनपटीलरटी उऩचाय का ऩयाभर्मददमा जाता है, वह ऩतत होता हैजो इनपटामइर होता है | ऩरुुष इनपटीलरटी स्ऩभमउत्ऩादन एवंट्ांसऩोटमसेउत्ऩन्न होती है. ऩरुुष इनपटीलरटी केप्रभखु कायण हैं:-

1. स्ऩभमदोष: कबी-कबी ऩरुुष स्ऩम्समउत्ऩन्न कयनेभेंअसभथमहोता है, जजसका अथममह हैकक रो स्ऩभमकाउं ट, मा मदद वह सभथमहै, वेअसाधायण आकाय के होतेहैंऔय काममनहींकय सकतेहैं. मह बी हो सकता हैकक स्ऩभम काउं ट (वीममभेंस्ऩम्समकी संख्मा) फहुत कभ हैं, अथवा नगण्म है. स्वस्थ स्ऩम्समभोटाइर (साभान्मरूऩ सेभवु कयनेमोग्म) बी होनेचादहए औय इनपटामइर ऩरुुष भें, मह नहींहोता है. टाइर स्ऩभमकी मह कभी एजूस्ऩेयलभमा कहराती हैतथा वीममभेंरो स्ऩभमको ओलरगोस्ऩयलभमा के नाभ सेजाना जाता हैजजन्हेंऩरुुष इनपटीलरटी का प्रभखु कायण होता है|

2. वेयीकोसेल्स: वेयीकोसेल्स को स्रोटभ की नसों के ववस्ताय सेसंदलबमत ककमा जाता है. इससेयक्त का ऩलुरगं होता हैजो स्रोटभ केताऩभान भेंफढोतयी होती है, जजससेस्ऩभमउत्ऩादन केलरए प्रततकूर दर्ा उत्ऩन्न होती है|

3. व्मवधामक डिसओिमय: स्ऩभमअंिेभेंपटीराइजेर्न के लरए कुछ ट्मब्ूस सेहोकय गजु यतेहैं. इन ट्मब्ूस भें ककसी प्रकाय के व्मवधान मा रुकावट ऩरुुष इनपटीलरट का भख्ु म कायण फनता है. ब्रोके ज के ववलबन्न कायण होतेहैंमथा ऩवू मसजमयी अथवा खेर के दौयान दघु टम ना भेंटेस्टीज ऩय चोट, टेस्टीज भेंसंरभण, नसफंदी (जजसभें ऩरुुष स्टयराइजेर्न की प्रकरमा जजसभेंस्ऩभमरेजानेवारी ट्मफू फांध ददमा जाता है) अथवा जन्भजात दोष जो स्ऩभमकेआवश्मक ट्ांसऩोटेर्न को योक देता है|

4. इम्मनू ोरोजजकर कायक: कुछ भाभरों भें, ऩरुुष का र्यीय खुद के स्ऩभमसेएरजजमकरी रयएक्ट कयता है. जफ ऐसा होता है, उसका र्यीय एंटफोिीज ऩैदा कयता हैजो स्ऩभमपक्र्न एव भोटीलरटी को ऩगं ुफना देता है. जननांग एरयमा भेवेसक्टोभीज मा ट्ोभा के कायण ऐसेएंटीफोिीज उत्ऩन्न कय सकतेहैं, जो अप्रत्मऺ रूऩ सेइनपटीलरटी फनातेहैं|

5. इजेक्मरू ेर्न डिसओिमय: ‘रयट्ोग्रेि इजेक्मरू ेर्न’ यततकभमके दौयान जफ वीममलर ंग भहुानेऩय आनेके फदरे ब्रेिय भेंप्रवेर् कय जाता है. मह चोट मा आघात, दवाओं, योग जैसेिाइबफटीज तथा सजमयी के कायण हो सकता है. दसू या डिसओिमय जफ कुछ ऩरुुषों को स्ऩाइनर चोट के कायण वेस्ऩभमउत्ऩन्न तो कय सकतेहैंऩयन्तुएजूकुरटे नहीं कय ऩातेहैं. इन भाभरों भें, इसकी अधधक संबावना यहती हैकक ऩमामप्त स्ऩभमरयट्ाइव हों तथा पटीलरटी उऩचाय भेंइस्तेभार ककमेजा सकें|

6. एजजंग मा आमुफढना: ऩरुुष साथी की आमुअक्सय गबामधान के सभम नजयअंदाज कय दी जाती है. स्ऩभम काउं ट, भोटीलरटी, एवं स्ऩभम स्ट्क्चय सबी ऩरुुष की आमुके साथ कभ हो जातेहैं. मेघटक लभरकय ऩरुुष इनपटीलरटी का कायण फनतेहैं| ऩरुुष इनपटीलरटी केउक्त प्रभखु कायणों केअरावा, जीवनचमाममथा उच्च तनाव, धुम्रऩान एवंर्याव सेवन तथा भोटाऩा ऩरुुष इनपटीलरटी के कायण होतेहैं. इसके अरावा जहां स्ऩभमकाउं ट, भोटीलरटी, क्वालरटी तथा दसू ये सबी कायण साभान्म होनेकेफावजूद ऩरुुष इनपटामइर हो सकता है—इसे‘अस्ऩष्ट इनपटीलरटी’ कहा जाता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *